200+ Tanhai Shayari in Hindi (Best Tanhai Shayari)

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi

Tanhai Shayari में आप किसी को बेहद प्यार करो पर वो आप का दिल तोड़ दे। तो आप का दिल Tanhai में डूब जाता है। अकेलापन काटने के लिए Tanhai Shayari Best सहारा है।

Tanhai Shayari में जब प्यार में दिल टूट जाता है तो हर कोई अकेला या तन्हा रहना पसंद करता है। Tanhai उसके जीवन का सहारा बन जाती है। उसी Tanhai को दूर करने के लिए Tanhai Shayari का Best Collection लेकर आये हैं।

अभी अभी वो मिला था हजारों बातें कीं,
अभी अभी वो गया है मगर ज़माना हुआ…!!

एक पुराना मौसम लौटा याद भरी पुरवाई भी,
ऐसा तो कम ही होता है वो भी हो तनहाई भी…!!

रिश्ते तो नहीं रिश्तों की परछाई मिली,
ये कैसी भीङ है बस यहाँ तन्हाई मिली…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

मैं हूँ दिल है तन्हाई है,
तुम भी जो होते तो अच्छा होता…!!

सौ बार चमन महका, सौ बार बहार आई,
दुनिया की वही रौनक, दिल की वही तन्हाई…!!

तेरे जल्वों ने मुझे घेर लिया है ऐ दोस्त,
अब तो तन्हाई के लम्हे भी हसीं लगते हैं…!!

ना ढूंढ मेरा किरदार दुनियाँ की भीड़ में,
वफादार तो हमेशा तन्हां ही मिलते है…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

जब से देखा है चाँद को तन्हा,
तुम से भी कोई शिकायत ना रही…!!

तन्हाई की आग में कहीं जल ही न जाऊँ,
के अब तो कोई मेरे आशियाने को बचाले…!!

इस तन्हाई का हम पे बड़ा एहसान है साहब !
न देती ये साथ अपना तो जाने हम किधर जाते…!!

गुजर तो जाएगी तेरे बगैर भी लेकिन,
बहुत उदास बहुत बे-क़रार गुजरेगी…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

मुझे तन्हाई की आदत है,
मेरी बात छोडो, तुम बताओ कैसी हो…!!

तलब ऐसी कि बसा ले उसे साँसो में हम,
और किस्मत ऐसी कि दीदार के भी मोहताज है…!!

इस इश्क की परवाह में, हम तन्हा हो गये,
सही कहते थे लोग, मोहब्बत अकेला कर जाती है…!!

साँसों में तपिश, यादों में कसक, आहों में नमी है,
इस दिसंबर में सब कुछ है बस उसकी कमी है…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

अजब से वो दिन थे अजब सी वो रातें,
तन्हाई में तन्हाई से तन्हाई की बातें…!!

वो शख्स भरी महफिल में भी मेरी तरह तन्हा है,
उसे ना पीने का शौक है ना पिलाने का…!!

एक पुराना मौसम लौटा याद भरी पुरवाई भी,
ऐसा तो कम ही होता है वो भी हो तनहाई भी…!!

किस से कहूँ अपनी तन्हाई का आलम,
लोग चहरे की हसी देख बहुत खुश समझते हैं…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

अब तो याद भी उसकी आती नहीं,
कितनी तन्हा हो गई तन्हाईयाँ…!!

खौफ अब खत्म हुआ सबसे जुदा होने का,
अपनी तन्हाई में हम अब मसरूफ बहुत रहते हैं…!!

कोसते रहते हैं अपनी जिंदगी को उम्रभर,
भीड़ में हंसते हैं मगर तन्हाई में रोया करते हैं…!!

मेरी तन्हाई को मेरा शौक न समझना,
बहुत प्यार से दिया है ये तोहफा किसी ने…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

तुझपे खुल जाती मेरे रूह की तन्हाई भी,
मेरी आँखों में कभी झाँक के देखा होता…!!

इस तरह हम सुकून को महफूज़ कर लेते हैं,
जब भी तन्हा होते हैं तुम्हें महसूस कर लेते हैं…!!

कहने को साथ अपने इक दुनिया चलती है,
पर छुपके इस दिल में तन्हाई पलती है…!!

मोहब्बत के रास्ते कितने भी मखमली क्यो ना हो,
खत्म तन्हाई के खंड़हरो में ही होते हैं…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

तुम क्या गए कि वक़्त का अहसास मर गया,
रातों को जागते रहे और दिन को सो गए…!!

कुछ लोग जमाने में ऐसे भी तो होते हैं,
महफिल में तो हंसते हैं तन्हाई में रोते हैं…!!

कितना अधूरा सा लगता है जब बादल हो बारिश न हो,
आँखें हो कोई ख्वाब न हो और अपना हो पर पास न हो…!!

माना कि आज उसका मुझसे कोई वास्ता नहीं रहा,
मगर आज भी उसके हिस्से का वक्त तन्हा गुजरता है…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

लोगों ने छीन ली है मेरी तन्हाई तक,
इश्क आ पहुँचा है इलज़ाम से रुसवाई तक…!!

उसके दिल में थोड़ी सी जगह माँगी थी मुसाफिरों की तरह,
उसने तन्हाईयों का एक शहर मेरे नाम कर दिया…!!

अब अपनी यादों की खुशबू भी हम से छीन लोगे क्या,
किताब-ए-दिल में अब ये सूखा गुलाब तो रहने दो…!!

शाम-ए तन्हाई में इजाफा बेचैनी,
एक तेरा ख्याल न जाना दूसरा तेरा जवाब न आना…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

जिद में आकर उनसे ताल्लुक तोड़ लिया हमने,
अब सुकून उनको नहीं और बेकरार हम भी हैं…!!

ऐ मेरे दिल कभी तीसरे की उम्मीद भी ना किया कर,
सिर्फ तुम और मैं ही हैं इस दश्त-ए-तन्हाई में…!!

थकन, टूटन, उदासी, ऊब, तन्हाई, अधूरापन ,
तुम्हारी याद के संग इतना लम्बा कारवाँ क्यों है…!!

कांटो सी चुभती है तन्हाई अंगारों सी सुलगती है तन्हाई,
कोई आ कर हम दोनों को ज़रा हँसा दे,
मैं रोती हूँ तो रोने लगती है तन्हाई…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

अपनी तन्हाई में खलल यूँ डालूँ सारी रात…
खुद ही दर पे दस्तक दूँ और खुद ही पूछूं कौन है…!!

ऐ सनम तूँ साथ है मेरे मेरी हर तन्हाई में,
कोई गम नहीं की तुमने वफ़ा नहीं की,
इतना ही बहुत है की तूँ शामिल है मेरी तबाही में…!!

जब भी तन्हाई में उनके बगैर जीने की बात आयी,
उनसे हुई हर एक मुलाकात मेरी यादों में दौड आई…!!

ख्वाब ख्याल, मोहब्बत, हक़ीक़त, गम और तन्हाई,
ज़रा सी उम्र मेरी किस-किस के साथ गुज़र गयी…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

परछाइयों के शहर की तन्हाईयाँ ना पूछ…
अपना शरीक-ए-ग़म कोई अपने सिवा ना था…!!

कभी मुस्कुराया करते थे हम भी दिल खोल के,
आज-कल तो तन्हाई हम पे गुजर-बसर कर रही है…!!

उनके जाने के बाद तन्हाई का सहारा मिला है,
इसकी आगोश में आये फिर निकलना नहीं आया…!!

अपनी तन्हाई से खूब जमती है,
यही लेती है मेरी खबर अक्सर…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

हर मुलाक़ात का अंजाम जुदाई क्यों है,
अब तो हर वक़्त यही बात सताती है हमें…!!

कितनी अजीब है मेरे अन्दर की तन्हाई भी,
हजारो अपने है मगर याद सिर्फ वो ही आती है…!!

वो उँगलियों पे गिनते हैं ज़ुल्म जिनका कुछ हिसाब नही,
तुम नहीं, गम नहीं, शराब नहीं ऐसी तन्हाई का जवाब नही…!!

फिर कहीं दूर से एक बार सजा दे मुझको,
मेरी तन्हाई का एहसास दिला मुझको…!!

देख रात कहती हैं, आजकल मोहब्बत बिकती है,
जो खरीद नहीं पाता, उसको बस तन्हाई मिलती हैं…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

कुछ लोग मेरे शहर में खुशबु की तरह है,
महसूस तो होते हैं दिखाई नहीं देते…!!

जब मुलाकात ना थी तब तो कोई बात ना थी
अब ये तन्हाई के दिन कैसे गुजारे जाएं…!!

तन्हाई थी मगर दूर तक ख़ामोशियों का शोर था,
उसे पुकारता कैसे जो मेरा, होके भी कहीं ओर था…!!

कुछ देर बैठी रही पास, और फिर उठ कर चली गई
गुरुर तो देखो तन्हाई का, ये भी बेवफ़ा हो कर चली गई…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

और क्या लिखूँ अपनी जिन्दगी के बारे में,
जो जिन्दगी हुआ करते थे वो ही बिछड़ गये…!!

ये भी शायद ज़िंदगी की इक अदा है दोस्तों,
जिसको कोई मिल गया वो और तन्हा हो गया…!!

सहारा लेना ही पड़ता है मुझको दरिया का,
मैं एक कतरा हूँ तनहा तो बह नहीं सकता…!!

वो हर बार मुझे छोड़ के चले जाते हैं तन्हा,
मैं मज़बूत बहुत हूँ लेकिन कोई पत्थर तो नहीं हूँ…!!

कुछ कर गुजरने की चाह में कहाँ-कहाँ से गुजरे,
अकेले ही नजर आये हम जहाँ-जहाँ से गुजरे…!!

ख़्वाब की तरह बिखर जाने को जी चाहता है,
ऐसी तन्हाई कि मर जाने को जी चाहता है…!!

हमारे चले जाने के बाद ये समुंदर भी पूछेगा तुमसे,
कहा चला गया वो शख्स जो तन्हाई मे आ कर,
बस तुम्हारा ही नाम लिखा करता था…!!

Tanhai Shayari, Tanhai Shayari in Hindi, Best Tanhai Shayari, Best Tanhai Shayari in Hindi, Dhokha Tanhai Shayari, Dhokha Tanhai Shayari in Hindi
Tanhai-Shayari

इक दर्द छुपा हो सीने में मुस्कान अधूरी लगती है,
न जाने क्यों बिन तेरे… हर शाम अधूरी लगती है…!!

हम मिले भी तो क्या मिले,
वही दूरियाँ वही फ़ासले,
न कभी हमारे कदम बढ़े
न कभी तुम्हारी झिझक गई…!!

चाँदनी बन के बरसने लगती हैं,
तेरी यादें मुझ पर,
बड़ा ही दिलकश मेरी,
तनहाईयों का मंज़र होता है…!!

अजनबी शहर के अजनबी रास्ते,
मेरी तन्हाई पर मुस्कुराते रहे,
मैं बहुत दूर तक यूँ ही चलती रही,
तुम बहुत देर तक याद आते रहे…!!

तन्हाई मैं मुस्कुराना भी इश्क़ है,
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है,
यूँ तो रातों को नींद नही आती,
पर रातों को सो कर भी जाग जाना इश्क़ है…!!

आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये,
तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोयेम,
कई बार पुकारा इस दिल मैं तुम्हें,
और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोय…!!

तुमसे कुछ कहूँ तो कह न सकूँगा,
दूर तुमसे अब रह न सकूँगा,
अब नहीं आता तुम्हारे बिन दिल को चैन,
ये दूरी अब सह न सकूँगा…!!

यादों में आपके तनहा बैठे हैं,
आपके बिना लबों की हँसी गँवा बैठे हैं,
आपकी दुनिया में अँधेरा ना हो,
इसलिए खुद का दिल जला बैठे हैं…!!

Tanhai Shayari में Tanhai Shayari से रिलेटेड और भी Shayari और Status मिलेंगे। जैसे Dhoka Shayari, Mast Shayari, ऐसी ही नई-नई पोस्ट के लिए हमारी इस Site SHAYARIBABA.COM की Bookmark करें। साथ ही अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।