Pyar Bhari Shayari in Hindi (Latest Pyar Bhari Shayari)

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi

Pyar Bhari Shayari pyar भगवान का दिया हुआ एक अनमोल तोहफा है। Pyar किसे नहीं होता। Pyar जिंदगी को खूबसूरत बना देता है। Pyar के बिना हर इंसान अधूरा है।

Pyar Bhari Shayari जो अपने Pyar का इजहार करने में सरमाते हैं। हम उनके लिए Pyar Bhari Shayari लेकर आये हैं। हर लड़की चाहती है की उसका प्रेमी उसकी तारीफ करे। तो हर प्रेमी हमारी Pyar Bhari Shayari के सहारे अपनी प्रेमिका को दिल की बात बता सकता है। और अपने प्यार का इजहार कर सकता है।

कोई अजनबी ख़ास हो रहा है,
लगता है फिर प्यार हो रहा है…!!

सारी दुनिया की खुशी अपनी जगह,
उन सबके बीच तेरी कमी अपनी जगह…!!

ए खुदा उन्हे हमेशा खुश रखना जिन्हे,
हम तुमसे भी पहले याद किया करते है…!!

दूर रहकर भी वो मेरे पास लगती है,
रोज सपनों से आकर वो बात कराती है…!!

मैंने तुझे शब्दों में महसूस किया है,
लोग तो तेरी तस्वीर पसन्द करते हैं…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

पहली मुलाकात थी और हम दोनों ही बेबस थे,
वो अपनी जुल्फें न संभाल पाए और हम खुद को…!!

छलकता है कुछ इन आँखों से रोज़,
कुछ प्यार के कतऱे होते हैं कुछ दर्द़ के लम्हें…!!

दिलो जान से करेंगे हिफ़ाज़त तेरी,
बस एक बार तूँ कह दे,
कि मैं अमानत हूँ तेरी…!!

तेरे ख्याल से ही एक रौनक आ जाती है दिल में,
तुम रूबरू आओगे तो जाने क्या आलम होगा…!!

पत्थर के दिल में भी जगह बना ही लेता है,
ये प्यार है अपनी मंजिल को पा ही लेता है…!!

इनकार करते करते इकरार कर बैठे,
हम तो एक बेवफा से प्यार कर बैठे…!!

बेवजह अब ज़िन्दगी में प्यार के बीज न बोए कोई,
मोहब्बत के पेड़ हमेशा ग़म की बारिश ही लाते हैं…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

तुझसे रूठ जाने का मजा ही कुछ और है,
अच्छा लगता है तेरा बार बार मनाना…!!

उनकी चाहत में हम कुछ इस तरह बंधे हैं,
की वो साथ भी नहीं और हम अकेले भी नहीं हैं…!!

कितना प्यार है तुमसे वो लफ्ज़ो के सहारे कैसे बताऊ,
महसूस कर मेरे एहसास, गवाही कहाँ से लाऊ…!!

एक सच्चा प्यार चाहे दो पल के लिये क्यों ना हो,
मगर जिन्दगी भर के लिये अहसास दे जाता है…!!

कभी हक़ीक़त में भी बढ़ाया करो ताल्लुक़ हमसे,
अब ख़्वाबों की मुलाक़ातों से तसल्ली नहीं होती…!!

क्यू बार बार ताकते हो शीशे को,
नज़र लगाओगे क्या मेरी इकलौती मुहब्बत को…!!

लोग देखेंगे तो अफ़साना बना डालेंगे,
यूँ मेरे दिल में चले आओ की आहट भी न हो…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

तेरे हुस्न को परदे की ज़रुरत ही क्या है,
कौन होश में रहता है तुझे देखने के बाद…!!

जिंदगी आ बैठ, ज़रा बात तो सुन,
मुहब्बत कर बैठा हूँ, कोई मशवरा तो दे…!!

हर चीज़ “हद” में अच्छी लगती हैं,
मगर तुम हो के “बे-हद” अच्छे लगते हो…!!

मोहब्बत भी शराब के नशा जैसी है दोस्तों,
करें तो मर जाएँ और छोड़े तो किधर जाएँ

आये हो जो आँखों में कुछ देर ठहर जाओ,
एक उम्र गुजरती है एक ख्वाब सजाने में…!!

ग़ज़ल लिखी हमने उनके होंठों को चूम कर,
वो ज़िद्द कर के बोले ‘फिर से सुनाओ…!!

तेरा पता नहीं पर मेरा दिल कभी तैयार नहीं होगा
मुझे तेरे अलावा कभी किसी और से प्यार नहीं होगा…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

पूछते थे ना कितना प्यार है हमें तुम से,
लो अब गिन लो ये बूँदें बारिश की…!!

तुम एक बार मुझसे मुझ जैसी, मोहब्बत करके तो देखों यार,
प्यार उम्मीद से कम हो तो सजा-ए-मौत दे देना…!!

प्यार के दो मीठे बोल से खरीद लो मुझे,
दौलत दिखाई तो सारे जहाँ की कम पड़ेगी…!!

जिस्म तो बहुत संवार चुके रूह का सिंगार कीजिये,
फूल शाख से न तोड़िए खुशबुओं से प्यार कीजिये…!!

तरस जाओगे हमारे लबों से सुनने को एक लफ्ज भी,
प्यार की बात तो क्या हम शिकायत तक नहीं करेंगे…!!

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है,
दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़ वही काफ़ी है…!!

मेरे चुप रहने से नाराज ना हुआ करो,
कहते है टूटे हुए लोग हमेशा खामोश हुआ करते हैं…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

क़यामत टूट पड़ती है ज़रा से होंठ हिलने पर,
जाने क्या हस्र होगा जब वो खुलकर मुस्कुरायेंगे…!!

असल में वही जीवन की चाल समझता है,
जो सफर में धूल को भी गुलाब समझता है…!!

जरूरी नही की मिठाई खिलाकर ही, दुसरो का मुह मीठा करे,
आप मीठा बोलकर भी, लोगो को खुशी दे सकते हैं…!!

पता नहीं मेरा हक है की नहीं,
फिर भी ना जाने क्यों तुम्हारी,
देखभाल करना अच्छा लगता है…!!

समेट कर ले जाओ अपने झूटे वादों के अधूरे किस्से,
अगली मोहब्बत में तुम्हें ये काम आयेंगे…!!

सिर्फ एक बात ही सीखी है हुस्न आँख वालो से,
हसीन जिस की जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है…!!

पहले तुझको तमन्ना मेरी थी, और मुझ को तमन्ना तेरी थी,
अब तुझको तमन्ना किसी और की है, जा अब तेरी तमन्ना कौन करे…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

मुझसे जब भी मिलो, तो नज़रें उठा के मिला करो,
मुझे पसंद है अपने आप को, तेरी आँखों में देखना…!!

वफ़ादारों ने लुटा बहुत साहेब,
चलो अब किसी बेवफ़ा से दिल लगते हैं…!!

तुम लाख छुपाओ सीने में, अहसास हमारी चाहत का,
दिल जब भी तुम्हारा धड़केगा, आवाज़ यहाँ तक सुनाई देगी…!!

ना परख मेरी मोहब्बत को, दुनिया की दौलत के तराजू में,
सच तो ये है के वफ़ा करने वाले, अक्सर गरीब होते हैं…!!

मेरे रूठ जाने से अब उनको कोई फर्क नहीं पढता,
बेचैन कर देती थी कभी जिसको ख़ामोशी मेरी…!!

जहाँ से तेरा जी चाहे वहां से, मेरी ज़िन्दगी का सबक पढ़ ले,
सफा कोई भी खोलेगी, नाम तेरा ही लिखा होगा…!!

मुझे ज़िन्दगी की दुआ ना दे, मेरी ज़िन्दगी से बनती नहीं,
कोई ज़िन्दगी पे करे यकीन, मुझे ज़िन्दगी पे यकीन नहीं…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

मै उसको चाँद कह दूँ ये मुमकिन तो है,
मगर लोग उसे रात भर देखे ये मुझे गवारा नहीं…!!

अगर यकीन ना हो तो बिछड़ कर देख लो,
तुम मिलोगे सबसे मगर हमारी ही तलाश में…!!

रात की तन्हाई मैं तो हर कोई याद कर लेता है,
सुबह उठते ही जो याद आये, मोहब्बत उसको कहते हैं…!!

सुबह शाम बसा रखी है आँखों में सूरत इसकी,
मैं इसके दिल मैं बस जाऊ ये हुनर क्यों नहीं आता…!!

हो गई हो भूल तो दिल से माफ़ कर देना,
सुना है सोने के बाद हर किसी की सुबह नहीं होती…!!

दोस्ती मोहब्बत का फूल है संभाल कर रखना,
टूटे ना दिल किसी का बस इतना ख्याल रखना…!!

निकल रहा था सुबह तक मेरे होंटों से खून,
रात भर इस कदर चूमा था तेरी तस्वीर को मैंने…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

कह दो अपने दांतों को क़ि हद में रहे,
तेरे लबों पे बस मेरे लबों का हक़ है…!!

हम से मिलते है तो मिलते हैं नजर झुका कर,
ना जाने वो फिर किस लिए रखते हैं सजा कर आखें…!!

वफ़ा करनी भी सीखो इश्क की नगरी में ए-दोस्त,
यूँ किसी से दिल लगाने से दिलों में घर नहीं बनते…!!

मोहोब्बत जीत जायेगी अगर मान जाओ तो,
मेरे दिल में तुम ही तुम हो अगर जान जाओ तो…!!

वो साथ थी मेरे या मैं साथ था उसके,
वो ज़िन्दगी के कुछ दिन थे,
या ज़िन्दगी थी कुछ दिन की…!!

में तुमसे कुछ नहीं कहता, फकत इनती गुजारिश है,
के इतनी बार मिल जाओ, जिनता याद आते हो तुम…!!

वो हैरान है मेरे सब्र पर कहे दो इन्हें
जो आंसू दामन पर नहीं गिरते,
जो दिल को चीर देते हैं…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

कुछ खास नहीं इन हाथों की लकीरों में,
मगर तुम हो तो एक लकीर ही काफी है…!!

सलीका हो अगर भीगी हुई,
आँखों को पढने का हुनर तो,
बहते हुवे आँसू भी अक्सर बात करते हैं…!!

हाथ की लाखिरें सिर्फ सजावट बयाँ करती है,
किस्मत अगर मालूम होती तो,
कभी मोहब्बत ना करते…!!

एक साल और बीत गया उसे लताश करते,
ए-ज़िन्दगी एक अहसान कर,
मेरे हमसफ़र का पता बता दे…!!

दिल ने सोचा था के उसे टूट कर चाहेंगे,
सच मानो टूटे भी बहुत चाहा भी बहुत…!!

नहीं कोई ज़रूरत याद रखने की हमें,
हम खुद याद आयेंगे, जहाँ वफ़ा का ज़िक्र होगा…!!

अपनी दोस्ती का बस इतना सा उशुल है,
जब तूँ कबुल है तो तेरा सब कुछ कबुल है…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

जमाने के लिए आज होली है,
मुझे तो तेरी यादे रोज रंग देती है…!!

में अपनी दोस्ती को सहर में रुसवा नहीं करता,
मोहब्बत में भी करता हूँ मगर चर्चा नहीं करता…!!

हम अपनी दिलपसंद पनाहों में आ गए,
जब हम सिमट के आपकी बाहों में आ गए…!!

हम तो आँखों में संवरते हैं, वही संवरेंगे,
हम नहीं जानते आईने कहाँ रखें हैं…!!

यूँ तो बहुत से हैं रास्तें, मुझ तक पहुंचने के,
राह-ऐ-मोहब्बत से आना, फासला कम पड़ेगा…!!

तेरे चेहरे पर अश्कों की लकीर बन गयी,
जो न सोचा था तू वो तक़दीर बन गयी…!!

जो दिल को अच्छा लगता है, उसी को दोस्त कहता हूँ,
मुनाफिक बनके रिश्तों की, सियासत में नहीं रखता…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

खुदा करे सलामत रहें दोनों हमेशा,
एक तुम और दूसरा मुस्कुराना तुम्हारा…!!

ना मोहब्बत ना दोस्ती हमें कुछ राज़ नहीं,
सब बदल जाते है हमारे दिल में जगह बनाने के बाद…!!

जिस के खुवाब सजाये थे आँखों में वो मिला नहीं,
किस्मत का फैसला जान लिया,
अब हमें किसी से कोई गिला नहीं…!!

इससे पहले के बेवफा हो जाएँ,
क्यों ना ए-दोस्त हम जुदा हो जाएँ…!!

मुझ को पाना है तो मुझ में उतर के देखो,
यूँ किनारों से समन्दर को देखा नहीं करते…!!

यूँ पलकें झुका देने से नींद नहीं आती साहेब,
सोते वही लोग हैं जिनके पास, किसी की यादें नहीं होती…!!

दिल में है जो बात किसी भी तरह कह डालिए,
ज़िन्दगी ही ना बीत जाए कहीं बताने मे…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

हमने तो फिराई थी रेत पर उंगलियां,
मुड़ कर देखा तो तुम्हारी “तस्वीर” बन गयी…!!

नहीं है अब कोई जुस्तजू इस दिल में ए सनम,
मेरी पहली और आखिरी आरज़ू बस तुम हो…!!

खुदा का शुक्र है कि उसने ख्वाब बना दिये वर्ना,
तुझसे मिलने कि तमन्ना कभी पूरी नहीं होती…!!

चलो सिक्का उछाल के कर लेते हैं फैसला आज,
चित आये तो तुम मेरे और पट आये तो हम तेरे…!!

एक शर्त पर खेलूँगा ये प्यार की बाज़ी,
मैं जीतू तो तुझे पाऊँ, और हारूँ तो तेरा हो जाऊ…!!

मेरे होंठो पर लफ्ज़ भी, अब तेरी तलब लेकर आते हैं,
तेरे जिक्र से महकते हैं, तेरे सजदे में बिखर जाते हैं…!!

तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना,
हम ‘जान’ तो दे देते हैं मगर ‘जाने’ नहीं देते…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

हमारी तडप तो कुछ भी नहीं है हुजुर,
सुना है कि आपके दिदार के लिए,
तो आइना भी तरसता है…!!

जब ज़मीर समझोता करना छोड़ दे तो,
समझ लो अब इंसानियत ख़तम हो गई…!!

सपना वो नहीं है जो आप नींद में देखे,
सपना वो है जो आपको नींद ही नहीं आने दे…!!

मुझे खैरात में मिली खुशियाँ अच्छी नहीं लगती,
में अपने ग़मों में रहता हूँ नवाबो की तरह…!!

कितना भी पकड़ लो पिसलता ज़रूर है,
ये वक़्त है साहेब बदलता ज़रूर है…!!

हमें सीने से लगाकर हमारी सारी कसक दूर कर दो,
हम सिर्फ तुम्हारे हो जाऐ हमें इतना मजबूर कर दो…!!

अपनी कलम से दिल से दिल तक की बात करते हो,
सीधे सीधे कह क्यों नहीं देते हम से प्यार करते हो…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

चाँद रोज़ छत पर आकर इतराता बहुत था,
कल रात मैंने भी उसे तेरी तस्वीर दिखा दी…!!

अपने हसीन होंठों को किसी परदे में छुपा लिया करो,
हम गुस्ताख लोग हैं नज़रों से चूम लिया करते हैं…!!

अगर है यकीं तो कर लो क़बूल प्यार हमारा,
ये वो किताब है जिसे अल्फ़ाज़ों में बयां नहीं कर सकते…!!

दिल में छुपा रखी है मोहब्बत, तुम्हारी ख़जाने की तरह,
बताते नहीं किसी को भी कि, कहीं शोर ना मच जाए…!!

कभी गुजरो दिल की चौखट से तो बता देना,
यह भी मोहब्बत करने की एक अदा होती है…!!

मोहब्बत की गहराइयों में सबसे ख़ूबसूरत क्या है,
हम हैं, तुम हो और किसी चीज़ की जरूरत क्या है…!!

मैं लब हूँ लेकिन तुम मेरी बात हो,
मैं तब तक पूरा हूँ जब तक तुम मेरे साथ हो…!!

Pyar Bhari Shayari, Pyar Bhari Shayari in Hindi, Latest Pyar Bhari Shayari, Latest Pyar Bhari Shayari in Hindi
Pyar-Bhari-Shayari

तूँ मिल गई है तो मुझ से नाराज है खुदा,
कहता है की तूँ अब कुछ माँगता नहीं है…!!

तुम्हारी निगाहों ने छुआ, मेरी रूह को कुछ इस क़दर,
कि वो जन्मों के लिए, तुम्हारी ग़ुलाम हो गई…!!

एक अरसा बीत गया तुम्हे चाहते हुए,
और तुम आज भी बेख़बर हो पहले की तरह…!!

कितनी ख़ूबसूरत हो जाती है दुनिया,
जब कोई अपना कहता है,
की तुम बहुत याद आ रहे हो…!!

कुछ ऐसा अंदाज था उनकी हर अदा में,
के तस्वीर भी देखूँ उनकी तो,
खुशी तैर जाती है चेहरे पे…!!

तमन्ना हो अगर मिलने की,
तो हाथ रखो दिल पर,
हम धड़कनों में मिल जायेंगे…!!

हमें आदत नहीं हर एक पे मर मिटने की,
तुझे में बात ही कुछ ऐसी थी,
दिल ने सोचने की मोहलत ना दी…..!!!

दोस्तों Pyar Bhari Shayari आप सभी को कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताना। साथ ही हमारी इस site SHAYARIBABA.COM में इस से रिलेटेड और भी शायरी, और स्टेटस फोटो सहित collection है जो बिलकुल फ्री है। जिनको आप अपनने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकतें हैं।