100+ Mast Shayari in Hindi (Lajawab Mast Shayari)

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi

Mast Shayari में आज हर कोई Mast Shayari या Best Shayari ढूंढ रहा है। हम आप सभी के लिए Mast Shayari का फोटो के साथ Collection लेके आये हैं। वो भी बिलकुल फ्री में।

सख़्त रातों में आसान सफ़र लगता है,
यह मेरी माँ की दुआओं का असर लगता है…!!

दुश्वार काम था ग़म को समेटना,
मैं ख़ुद को बांधने में कई बार खुल गया…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

मैंने तो सिर्फ मोहब्बत की थी,
वो भी करलेते तो शायद इश्क कहलाता…!!

तजुर्बा कहता है मोब्बत से किनारा कर लूँ,
दिल कहता है कि ये तजुर्बा दोबारा कर लूँ…!!

वो भी रो देगा उसे हाल सुनाएं कैसे,
मोम का घर है चिरागों को जलाएं कैसे…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

तुम मुझे कभी दिल से कभी आँखों से पुकारो,
ये होठों के तकल्लुफ तो ज़माने के लिए होते हैं…!!

हमदर्दी न करो मुझसे ऐ मेरे हमदर्द दोस्तों,
वो भी बड़ा हमदर्द था जो दर्द हजारों दे गया…!!

एक खून के रंग ने रंग नहीं बदला,
वर्ना सारे रिश्ते जहां के बेरंग हो गए…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

ऐसा क्या लिखूँ की तेरे दिल को तस्सली हो जाए,
क्या ये बताना काफी नहीं की मेरी ज़िन्दगी हो तुम…!!

हर चीज वही मिलती है जहाँ पर खोया हो,
पर विश्वाश वहाँ कभी नहीं…
मिलता जो एक बार खो जाए…!!

तुम्हे पाने की चाह में बहुत कुछ खोया है मैंने,
अब तुम मुझे मिल भी जाओ तो भी अफसोस होगा…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

जी चाहे की दुनिया की हर एक फ़िक्र भुला कर,
दिल की बातें सुनाऊं तुझे मैं पास बिठाकर…!!

यूँ तो फरिश्तों ने भी एक फ़रिश्ते का साथ छोड़ दिया,
अजीब इतेफाक था उसको भी किसी से ‘इश्क़’ हुआ था…!!

जो तूँ है प्यार का बादल तो बार-बार बरस,
न भीग पाउँगा मैं तेरे एक नज़ारे से…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

तुम मेरी ज़िंदगी में शामिल हो ऐसे,
मंदिर के दरवाज़े पर मन्नत के धागे हो जैसे…!!

खुद-व-खुद शामिल हो गए तुम मेरी साँसों में,
हम सोच के करते तो फिर मोहब्बत न करते…!!

वो सुना रहे रहे अपनी वफाओ का किस्सा,
हम पर नजर पड़ी तो वो खामोश हो गए…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

आप पहलू में जो बैठे तो संभल कर बैठे,
दिल-ए-बेताब को आदत है मचल जाने की…!!

उसकी हसरत को मेरे में दिल लिखने वाले,
काश उसको भी मेरी किश्मत में लिखा होता…!!

इन्सान सिर्फ एक ही बात से अकेला पड़ जाता है,
जब उसके अपने ही उसे गलत समझने लगे…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

हमें तुमसे मोहब्बत है, हमारा इम्तिहान ले लो,
अगर चाहो तो दिल ले लो, अगर चाहो तो जान ले लो…!!

पतझड़ भी हिस्सा है जिंदगी के मौसम का
फ़र्क सिर्फ इतना है कुदरत में पत्ते सूखते हैं,
और हक़ीक़त में रिश्ते…!!

मेरे बाद किसी और को,
हमसफर बना कर देख लेना,
तेरी हर धड़कन कहेगी,
उसकी वफा में कुछ और बात थी…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

मोहब्बत की कहूँ देवी या तुमको बंदगी कह दूँ,
बुरा मानो न अगर हमदम तो तुमको ज़िन्दगी कह दूँ…!!

होती नहीं मोहब्बत सूरत से,
मोहब्बत तो दिल से होती है,
सूरत उसकी प्यारी लगती है,
कद्र जिसकी दिल से होती है…!!

जन्म जन्म जो साथ निभाए,
तुम ऐसा बंधन बंध जाओ,
मैं बन जाऊं प्यार भरा दिल,
तुम दिल की धड़कन बन जाओ…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

मेरी ज़िन्दगी की ये सबसे बड़ी तमन्ना है,
मेरे पास रहो तुम हमेशा मेरी साँस बनके…!!

सुर्ख गुलाब सी हो तुम,
जिन्दगी के बहाव सी हो तुम,
हर कोई पढ़ने को बेकरार है,
पढ़ने वाली किताब सी हो तुम…!!

तुम्हीं हो फगवां की सर्द हवा,
मौसम की पहली बरसात सी हो तुम,
समन्दर से भी गहरी,
आशिकों के ख्वाब सी हो तुम…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

जब कभी सिमटोगे तुम, मेरी इन बाहों में आकर,
मोहब्बत की दास्तां मैं नहीं, मेरी धड़कने सुनाएंगी…!!

रहनुमा हो जमाने की,
जीने के अन्दाज सी तुम हो,
नजर हैं कातिलाना और,
बोतलों में बन्द शराब सी हो तुम…!!

गुनगुनी धुप हो शीत की,
तपती घूप मैं छाँव सी हो तुम,
आरती का दीप हो और,
भक्ति के आर्शीवाद सी हों तुम…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

तेरी आँखों के जादू से,
तूँ ख़ुद नहीं है वाकिफ़,
ये उसे भी जीना सिखा देती है,
जिसे मरने का शौक़ हो…!!

जब यार मेरा हो पास मेरे,
मैं क्यूँ न हद से गुजर जाऊँ,
जिस्म बना लूँ उसे मैं अपना,
या रूह मैं उसकी बन जाऊँ…!!

लबों से छू लूँ जिस्म तेरा,
साँसों में साँस जगा जाऊँ,
तूँ कहे अगर इक बार मुझे,
मैं खुद ही तुझमें समा जाऊँ…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

अदा से देख लो जाता रहे गिला दिल का,
बस एक निगाह पे ठहरा है फ़ैसला दिल का…!!

तड़प रहीं हैं मेरी साँसें,
तुझे महसूस करने को,
खुशबू की तरह बिखर जाओ,
तो कुछ बात बने…!!

मेरी आँखों में झाँकने से पहले जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर,
जो हमने पलके झुका ली तो कयामत होगी,
और हमने नजरें मिला ली तो मुहब्बत होगी…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

बारिश की तरह कोई बरसता रहे मुझ पर,
मिट्टी की तरह मैं भी महकती चली जाऊँ…!!

इश्क के सहारे जिया नहीं करते,
गम के प्यालों को पिया नहीं करते,
कुछ नवाब दोस्त हैं हमारे,
जिनको परेशान न करो,
तो वो याद ही किया नहीं करते…!!

बरसात आये तो ज़मीन गीली न हो,
धूप आये तो सरसों पीली न हो,
ए-दोस्त तूने यह कैसे सोच लिया कि,
तेरी याद आये और पलकें गीली न हो…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

जरा छू लूँ तुमको मुझको यकीन आ जाए,
लोग कहते हैं कि मुझे साए से मोहब्बत है…!!

सूखी पड़ी है दिल की ज़मीं मुद्दतों से यार,
बनके घटाएं प्यार की बरसात कीजिये,
एक बार अकेले में मुलाकात कीजिये…!!

हर रोज़ पीता हूँ तेरे छोड़ जाने के ग़म में,
वर्ना पीने का मुझे भी कोई शौंक नहीं,
बहुत याद आते है तेरे साथ बिताए हुये लम्हें,
वर्ना मर-मर के जीने का मुझे भी कोई शौंक नहीं…!!

किसी को चाहो तो इस अंदाज़ से चाहो,
कि वो तुम्हे मिले या ना मिले,
मगर उसे जब भी प्यार मिले,
तो तुम याद आओ…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

ज़िन्दगी तुम मेरी बन जाओ रब से और क्या माँगू,
जीने की वजह बन जाओ बस ये ही दुआ माँगू…!!

उमर की राह मे रास्ते बदल जाते हैं,
वक़्त की आँधी मे इंसान बदल जाते हैं,
सोचते हैं आपको इतना याद ना करें,
लेकिन आँख बंद करते ही इरादे बदल जाते हैं…!!

लोग कहते हैं कि इश्क मत करो,
कि हुस्न सर पे सवार हो जाये,
हम कहते हैं कि इश्क इतना करो,
कि पत्थर दिल को भी तुमसे प्यार हो जाये…!!

दिल नहीं भूल सकता तुम्हे,
धड़कनो की जरुरत हो तुम,
तुम्हीसे है मेरी दुनिया हँसी,
मेरी मोहब्बत मेरी जिंदगी हो तुम…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

इजाजत हो अगर तो पूछ लूँ मैं तेरी ज़ुल्फ़ों से,
सुना है ज़िंदगी एक खूबसूरत जाल है साकी…!!

कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता,
कुछ दिन बात न करने से बेगाना नहीं होता,
दोस्ती में दुरी तो आती रहती है,
पर दुरी का मतलब भुलाना नहीं होता…!!

मिटाना भी चाहूँ तो भी मिटा नही सकता,
उसका नाम अपने दिल से,
क्योंकि मिटाए तो वो जाते हैं,
जो गलती से लिखे जाते हैं…!!

उदास लम्हों की न कोई याद रखना,
तूफ़ान में भी वजूद अपना संभाल रखना,
किसी की ज़िंदगी की ख़ुशी हो तुम,
बस यही सोच तुम अपना ख्याल रखना…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

दर्द तो बेहिसाब दिया आपने,
काश प्यार भी ऐसे किया होता…!!

कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है,
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है,
कब तक छुपाऊँ दिल की बात,
उसकी हर अदा पर मुझे प्यार आ जाता है…!!

उदास लम्हों की न कोई याद रखना,
तूफ़ान में भी वजूद अपना संभाल रखना,
किसी की ज़िंदगी की ख़ुशी हो तुम,
बस यही सोच तुम अपना ख्याल रखना…!!

इस डूबी हुई नाव का किनारा हो तुम,
मेरी ज़िंदगी का आखिरी सहारा हो तुम,
यूँ तो हर मुश्किल को पार करने की हिम्मत है मुझमे,
बस तुम को खोने के अंजाम से डरते हैं हम…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

मजा आता अगर गुजरी हुई बातों का अफसाना,
कहीं से तुम बयाँ करते, कहीं से हम बयाँ करते…!!

फर्क होता है खुदा और फ़क़ीर में,
फर्क होता है किस्मत और लकीर में,
अगर कुछ चाहो और न मिले तो समझ लेना,
कि कुछ और अच्छा लिखा है तक़दीर में…!!

प्यार में कोई तो दिल तोड़ देता है,
दोस्ती में कोई तो भरोसा तोड़ देता है,
ज़िंदगी जीना तो कोई ग़ुलाब से सीखे,
जो खुद टूट कर दो दिलों को जोड़ देता है…!!

इस नए साल में ख़ुशियों की बरसातें हों,
प्यार के दिन और मोहब्बत की रातें हों,
रंजिशें नफ़रतें मिट जायें सदा के लिए,
सभी के दिलों में ऐसी चाहते हों…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

अब आ गए हो आप तो आता नहीं कुछ याद,
वरना कुछ हमको आप से कहना ज़रूर था…!!

जहाँ याद न आये तेरी वो तन्हाई किस काम की,
बिगड़े रिश्ते न बने तो खुदाई किस काम की,
बेशक़ अपनी मंज़िल तक जाना है हमें,
लेकिन जहाँ से अपने न दिखें,
वो ऊंचाई किस काम की…!!

कागज़ की कश्ती से पार जाने की ना सोच,
चलते हुए तूफानों को हाथ में लाने की ना सोच,
दुनिया बड़ी बेदर्द है, इस से खिलवाड़ ना कर,
जहाँ तक मुनासिब हो, दिल बचाने की सोच…!!

हर बार मेरे सामने आती रही हो तुम,
हर बार तुम से मिल के बिछड़ता रहा हूँ मैं,
तुम कौन हो ये खुद भी नहीं जानती हो तुम,
मैं कौन हूँ ये खुद भी नहीं जानता हूँ मैं…!!

Mast Shayari, Mast Shayari in Hindi, Lajawab Mast Shayari, Lajawab Mast Shayari in Hindi, New Mast Shayari, New Mast Shayari in Hindi
Mast-Shayari

हमारे जीने का अलग अंदाज़ है,
एक आंख में आँसू और दूसरे में ख़्वाब है…!!

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला…!!

कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है,
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है,
कब तक छुपाऊँ दिल की बात,
उसकी हर अदा पर मुझे प्यार आ जाता है…!!

खुशबू बनकर तेरी साँसों में शमा जायेंगे,
सुकून बनकर तेरे दिल में उतर जायेंगे,
महसूस करने की कोशिश तो कीजिये एक बार,
दूर रहते हुए भी पास नजर आएंगे…!!

यूँ दूर रह कर दूरियों को बढ़ाया नहीं करते,
अपने दिवानो को सताया नहीं करते,
हर वक़्त बस.. जिसे तुम्हारा ख़याल हो,
उसे अपनी आवाज़ के लिए तड़पाया नहीं करते…!!

हिलने ना पाए होट और कह जाए बहुत कुछ,
आँखों में आँखें डाल कर हर बात कीजिये,
एक बार अकेले में मुलाकात कीजिये…!!

दिन में ही मिले रोज हम देखे न कोई और,
सूरज पे ज़ुल्फ़ें डाल कर फिर रात कीजिये,
एक बार अकेले में मुलाकात कीजिये…!!

मुझको ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नहीं,
फिर भी खुश हूँ मुझको उससे कोई गिला नहीं,
और कितने आसू बहाऊ उसके लिए,
जिसको खुदा ने मेरे नशीब में लिखा नहीं…!!

दोस्तों Mast Shayari आप सभी को जरूर पसंद आई होगी। तो Like कमेंट और अपने दोस्तों के साथ Facebook, Whatsapp जैसे Social Media पर शेयर करना न भूलें।